How to submit your website in Google Search Console (HINDI)

क्या आप blogging की दुनिया में नए हैं? क्या आपको Google search console के बारे में जानकारी नहीं है? तो यह article आपके लिए बेहद अहम है..

क्योंकि इस article में हम जानेंगे कि Google search console क्या है? अपने website को Google search console में कैसे submit करें? (How to submit your website in google search console in Hindi)?

Google Search Console क्या है?

Google search console google के द्वारा develop किया गया एक online free tool है। जिसका उपयोग कोई भी Website or blog owner आसानी से कर सकता है। इसे पहले यह Google webmaster tool के नाम से जाना जाता था, लेकिन बाद में इसका नाम बदलकर google नें google search console कर दिया।

यह आपकी website को monitor, maintain,troubleshoot एवं error solve करने में आपकी मदद करता है।

Google किसी भी नयी website, blog अथवा content को index करने में समय लेता है। Because जब randomly google के bots आपकी website में आते हैं तब ही आपका content index होता है।

वहीँ यदि किसी Blog अथवा website को google search console में add कर लेते हैं, तो उस website का data google आसानी से fetch कर लेता है।

जब आप अपनी Website/blog में कोई नया content डालते हैं, तो google search console में उसकी link fetch करके आप google को खुद से उस content के बारे में बता सकते हैं। जिसके कि आपका content जल्दी rank हो।

इन सब के अलावा Google search console में बहुत सारे options तथा features हैं, जो हमारे काम को आसान बनाने में हमारी मदद करते हैं। इसकी मदद से आप अपनी Website के referring domains, mobile site performance, rich search results, dead links, errors, highest-traffic queries और pages आदि भी देख सकते हैं।

Google search console में blog/website कैसे add करें(in Hindi)

Step #1: Google Search Console में Login करें

Google search console में अलग से account बनाने (sign up की करने की जरूरत नहीं रहती है। आप Direct अपने gmail account की मदद से login कर सकते हैं, किसी अन्य तरीके से इसमें login अथवा sign up नहीं किया जा सकता है।

Google search console : submit website
Step for login
  1. https://search.google.com/search-console/ link पर click करें।
  2. ‘Start Now’ button में click करें।
  3. Sign in’ option में click करें।
  4. (Gmail id/password ) डालकर sign in करें।

Step #2:  Add Property

Sign in करने के बाद Google search console का homepage open हो जाएगा. यहाँ पर Top bar में बाएं तरफ दिए हुए ‘Add property’ option में click करें.

Step #3:  Select Property Type

यहाँ पर आपको 2 विकल्प दिखेंगे Domain और URL Prefix.

  • Domain – इसमें सीधे आप अपना domain add कर सकते हो अर्थात इसमें आपको www., http:// तथा https:// etc. अलग अलग add करने की जरूरत नहीं रहती है। इसमें पूरा data एक ही जगह दिखाता है।
  • Prefix – इसमें यदि आपकी site http:// अथवा http:// के साथ है तथा subdomain हैं।

Example– xyz.com main domain एवं blog.xyz.com subdomain है, तो इस विकल्प की मदद से आप अलग अलग  data अलग अलग property की मदद से देख सकते हैं।

NOTE: Property add करने से पहले आगे के steps read करें.

Google search console property

Step #4:  Verify Ownership

इससे Google search console यह verify करता है कि आप ही website के owner हैं या नहीं। जैसा कि हमने आपको बताया Property add करते समय दो विकल्प आते हैं पहला Domain और दूसरा Prefix।

यदि आप Domain add करते हो तो आपको ownership Domain name provider (DNS record) की मदद से verify करना होगा.

वहीँ आप यदि Prefix विकल्प की मदद से property add करते हैं तो आपको ownership verify करने के लिए 5 विकल्प मिल जाते हैं HTML File, HTML Tag, Google Analytics, Google Tag Manager तथा Domain name provider (DNS record).

Domain name provider (DNS record) यह विकल्प Domain और Prefix दोनों में common है जबकि prefix में 4 extra option मिल जाते हैं.

हम आपको Prefix विकल्प ही suggest करेंगे क्योंकि इसमें आप अपने blog अथवा website के domain, subdomain, with http:// or https:// etc. सभी को अलग अलग monitor कर सकते हैं.

आइये Ownership verify करने के सभी 5 विकल्पों के बारे में जानते हैं –

1.HTML File

इस Option को select करने पर हमें एक HTML file download करने के लिए मिलती है. उस File को download करके उसमें बिना कुछ changing किये उसे website के root folder में upload करना होता है. यह Process थोड़ी hard है. इसके लिया हमारा अपनी Website के server में access होना चाहिए. WordPress में Cpanel तथा FTP की मदद से HTML file को upload किया जा सकता है. Upload करने के बाद वापस search console में आये और नीचे दी हुई ‘Verify’ button में click करें.

2.HTML Tag

इस विकल्प को चुनने पर एक Simple सा meta tag दिया जाता है जिसे copy करके अपनी website के <head> section के अन्दर तथा <body> section के पहले करना होता है.

Blogger में template edit विकल्प के माध्यम से आसानी से किया जा सकता है. WordPress में इसे Theme edit से किया जा सकता है. या फिर WordPress में insert header & footer plugin की मदद से भी इस tag को add किया जा सकता है. Insert करने के बाद वापस search console में आये और नीचे दी हुई ‘Verify’ button में click करें.

3. Google Analytics

यदि आपने Google analytics में पहले account बनाया है तो आपने उसका code अपनी website में add किया होगा. यदि Code पहले से add है इस विकल्प से आप direct verify कर सकते हैं. यदि Code नहीं है तो इसके लिए पहले analaytics account बनाना पड़ेगा.

4. Google Tag Manager

Google analytics की तरह ही यदि आप google tag manager का उपयोग पहले से करते हैं तो आप single click में ही अपनी ownership verify कर सकते हैं.

5. Domain Name Provider (DNS Record)

इस Option को select करने पर आपको एक TXT record show होगा उसे copy कर लें. इसके बाद अपने Domain name provider की website खोलें. DNS option select करें और ‘Add record’ में click करें. यहाँ पर Type .txt select करें. Value में copy किया text paste कर दें और save कर दें. इसके बाद वापस search console में आये और नीचे दी हुई ‘Verify’ button में click करें.

WordPress Users के लिए Extra Tips

यदि आप WordPress use करते हैं तो हम आपको 2 plugin बता रहे हैं जिनमें से कोई सा भी plugin यदि आप पहले से उपयोग करते हैं तो आप उसकी मदद से आसानी से ownership verify कर सकते हैं.

1.Yoast SEO

यदि आप Yoast SEO plugin का उपयोग करते हैं तो ownership verification methods में से HTML Tag वाला विकल्प चुनें और tag copy कर ले.

इसके बाद अपना WordPress dashboard open करें और toolbar में से SEO > General में click करें. इसके बाद ‘Webmaster tools’ tab में click करें. यहाँ पर आपको ‘Google verification code’ विकल्प मिल जाएगा उसके सामने दिए हुए box में copy किया हुआ code paste कर दें और ‘Save changes’ button में click करें. इसके बाद वापस search console में आये और नीचे दी हुई ‘Verify’ button में click करें.

2. All in One SEO Pack

Yoast SEO की तरह ही यदि आप All in One SEO Pack plugin का उपयोग करते हैं तो उसी तरह ownership verification methods में से HTML Tag वाला विकल्प चुनें और tag copy कर लेवें.

इसके बाद अपना WordPress dashboard open करें और toolbar में से All in One SEO > General में click करें. इसके बाद आपको यहाँ दिए हुए Sections में ‘Webmaster verifaction’ section मिल जाएगा. यहाँ पर आपको ‘Google webmaster tools’ विकल्प मिल जाएगा उसके सामने दिए हुए box में copy किया हुआ code paste कर दें और ‘Save changes’ button में click करें. इसके बाद वापस search console में आये और नीचे दी हुई ‘Verify’ button में click करें.

निष्कर्ष – Conclusion

इस आर्टिकल में हमने जाना है कि Google search console क्या होता है, इसका क्या उपयोग है तथा इसमें अपनी webiste अथवा blog कैसे add करते हैं. अगले आर्टिकल में हम इसके सारे features के बारे में विस्तार से बताएँगे जिसकी मदद से आप अपनी website अथवा blog को आसानी से optimize कर पायेंगे.

आपको यह आर्टिकल कैसा लगा हमें कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं, आपको इस आर्टिकल से जुड़ा कोई प्रश्न है तो भी आप हमसे पूछ सकते हैं. अपने नए ब्लॉगर दोस्तों की सहायता भी जरूर करें ताकि वे भी इसका लाभ ले सकें. इसके लिए आप हमारे आर्टिकल को सोशल मीडिया में अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हैं.

15 Blogging Mistakes जो भूलकर भी नहीं करना चाहिए

क्या आप भी अपने bog से मनचाहा result पाने के लिए struggle कर रहे हैं?

हालांकि blogging complicated हो सकती है इसलिए आपको देखना होगा कि, क्या आप सही direction में काम कर रहे हैं?

गलती करना इंसान का स्वभाव होता है। जब कोई भी नया Blogger अपनी blogging journey की शुरुआत करता है, तो काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है और काफी सारी गलतियाँ भी होती हैं। यह बात सही है कि गलती करने से ही सीखते हैं लेकिन कोशिश यही करें कि दूसरों की गलतियों से सीख जाएँ या पहले से सतर्क हो जाएँ।

आज के इस आर्टिकल में हम आपको ऐसी 15 “Blogging mistakes in Hindi’ के बारे में बताएँगे जो कि अधिकतर bloggers करते हैं।

Blogging mistake in hindi

Mistake #1: Free Platform चुनना

शुरुआत में अधिकतर Blogger free के चक्कर में free platform चुन लेते हैं। जिसमें domain के आगे उस company का नाम जुड़ा होता है। जैसे यदि आप Blogger choose करते हैं तो domain के आगे blogspot जुड़ा रहेगा जैसे – xyz.blogspot.com, ये देखने और सुनने में काफी भद्दा लगता है।

Mistake #2: Free Domain चुनना

Free के चक्कर में बहुत से bloggers free domain name भी ले लेते हैं। जैसे .tk, .pk etc. ऐसे Domain भी सुनने में और बोलने में अटपटे लगते हैं तथा इन्हें Users अच्छा नहीं समझते अर्थात ऐसे domain के साथ आप अपने blog का future नहीं देख सकते।

Domain name हमेशा TLD (Top Level Domain) use करना चाहिए जैसे .com, .in, .co etc. सबसे बेहतर domain name .com होता है.

Mistake #3: Free या सस्ती Hosting चुनना

सस्ती Hostings आपको free में hosting तो दे देती हैं लेकिनं वे पैसे कमाने के लिए आपके blog में अपने advertisement दिखाते हैं, जो कि आपके blog को bad looking बनाती हैं, साथ ही blog की speed भी low कर देती हैं। कभी कभी इन Ads की वजह से users blog को छोड़ देते हैं.

वहीँ यदि सस्ती Hosting choose करते हैं तो आपको downtime, site speed, low storage etc. बहुत सी problems face करना पड़ता है।

Mistake #4: Regularly Post न करना

Bloggers की ये सबसे बड़ी mistake होती है यदि वे किसी schedule को follow नहीं करते हैं। अधिकतर Bloggers blog बनाने के बाद over confidence में शुरुआत में दिन में 3 – 4 article publish करते हैं लेकिन बाद में 2 दिन, 4 दिन, हफ्ते भर में एक article publish करते हैं।

भले ही रोजाना एक Article publish करें अथवा दो दिन में एक आर्टिकल publish करें, लेकिन post regularly करना चाहिए अर्थात schedule के साथ करें। ये नहीं कि मन किया तो कर दिए नहीं किया तो नहीं किये।

Mistake #5: Short Content Publish करना

Newbie bloggers अधिकतर ये गलती करते हैं। शुरुआत में समझ न होने के कारण किसी भी Topic को short detail में ही cover कर देते हैं। जबकि यदि आप किसी Topic पर लिख रहे हैं तो सबसे पहले खुद उसके बारे में अच्छे से जान लें, समझ लें तथा अच्छे से research करके अच्छी तथा विस्तृत जानकारी लिखें।

हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि Users को आपके article में उस topic की पूरी जानकारी नहीं मिलती है तो वो आपका Blog छोड़कर दुसरे blog में चला जाएगा। Google भी short content पसंद नहीं करता . इसीलिए Article में उसके topic से जुड़े हर बिंदु के बारे में लिखें।

Mistake #6: खराब Blog Design

कुछ लोग Blog design में ध्यान ही नहीं देते वहीँ कई blogger बहुत अच्छे design के चक्कर में over कर देते हैं। Blog का design simple होना चाहिए साथ ही navigation आसान होना चाहिए।

हर प्रकार के users आसानी से आपकी website use कर सकें। Blog में ज्यादा colors का उपयोग न करें. Background color, font size, font style आदि का भी ध्यान रखें।

Mistake #7: गलत Topic या गलत Niche चुनना

bloggers जो सबसे बड़ी गलती करते हैं वह है कि हर किसी के लिए कुछ ना कुछ लिखने की कोशिश करना।

For example- यदि कोई banking blogger विशेष रुप से small business lending मैं interest रखता है तो उसे मॉर्टगेज मार्केटिंग के बारे में लिख कर अपना समय और एनर्जी बर्बाद नहीं करना चाहिए। इसके बदले उसे अपनी एनर्जी अपने niche (इंटरेस्टिंग टॉपिक) स्मॉल बिजनेस लीडिंग में ही लगानी चाहिए। जैसे अलग-अलग बिजनेस के लिए अलग-अलग लोन ऑप्शन के बारे में बताना etc.

ऐसा करने से आप Long time work नहीं कर पायेंगे तथा ऐसा करना हमेशा नुकसानदायक ही साबित होता है। कई लोग इस गलती के कारण समय ख़राब कर के अंत में Blogging छोड़ देते हैं।

हमेशा ऐसा Niche choose करें जिसका आपको अच्छा knowledge हो तथा उसमें intrest हो। इससे आप कभी Bore नहीं होएंगे तथा आपको अपने blog के लिए नया content find करने में परेशानी नहीं होगी।

Mistake #8: बहुत सारी Categories पर लिखना

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि गलत Niche choose करना नुकसानदायक हो सकता है। वैसे ही बहुत सारी categories में एक ही blog पर लिखना भी फायदेमंद नहीं है।

आपको जिन Category में अच्छा knowledge है उसी category में लिखें तथा category एक दुसरे से मिलती जुलती ही चुनें।ज्यादा आवश्यक होने पर दूसरा Blog बनाकर उसमें अन्य categories पर लिख सकते हैं।

Mistake #9: ये मानना की सभी Content Viral हों

दोस्तों ये मानना बिलकुल गलत है कि आपके सभी Content viral हो। ये मानकर कुछ लोग एक ही Content के लिए 10 बार सोचते हैं तथा समय बर्बाद करते हैं और अंत में viral न होने पर पछताते हैं। जरूरी नहीं कि आपका हर Content viral हो। इसीलिए 10 दिन में 1 content न लिखकर 10 दिन में 10 content लिखें।

हो सकता हैं उनमें से कोई 1 Content ही इतना viral हो जाए जितने कोई न हुए हों। आपको अपने Niche से जुड़े तथा user की demand के सभी topics पर लिखना चाहिए। न कि ये सोचकर कि हर Content viral हो।

Mistake #10: Low-Quality Content

ये बिलकुल नहीं करना चाहिए कि Article का title लिखा और सीधा article लिखते चले गए। दोस्तों Article ऐसा होना चाहिए जो कि informative हो, easy language में हो, समझने में आसान हो तथा systematic तरीके से लिखा गया हो।

इसीलिए कभी भी Article लिखते समय इन सब बातों का ध्यान रखें। Article की formatting अच्छे से करें। Headings, subheadings का उपयोग करें, जहाँ जरूरत हो वहां bold, italic, underline, inverted comma etc. का उपयोग करें। Article की length के हिसाब से 3 से 5 image जरूर add करें।

अपने Content में जितना हो सके उतनी quality add करें जिससे visitors आपके blog में बनें रहें तथा returning visits भी मिलें।

Mistake #11: Regular Analytics Check करना

यह भी New bloggers की बहुत बुरी आदत होती है। अधिकतर नए Bloggers 10 से 20 article publish करते ही या फिर कोई भी नया content publish करते ही बार-बार analytics check करने लगते हैं। दोस्तों आप मेहनत करते जाएँ, Visitors खुद ही आना शुरू हो जायेंगे।

आपके Analytics check करने से visitor तो नहीं आयेंगे बल्कि आपका समय ही खराब होगा। इसीलिए अधिक से अधिक Quality content publish करें आपको सही समय में आपकी मेहनत के अनुसार visitors मिलना automatic शुरू हो जायेंगे।

Mistake #12: Adsense के पीछे भागना

जैसा हमने ऊपर बताया वैसे ही कई Bloggers blog बनाये हुए 4 दिन नहीं होते और adsense के पीछे भागने लगते हैं। दोस्तों जब आपके Blog में अच्छा traffic होगा तब ही अच्छी earning होगी। तो जब तक traffic न हो तब तक adsense बोझ लगता है।

इसीलिए Quality contents publish करने में focus करें और visitors बढ़ाएं उसके बाद adsense के पीछे भागें।

Mistake #13: जल्दी Blogging से हार मान जाना

ऐसे लाखों Bloggers हैं जो दुसरे bloggers से motivate होकर blogging शुरू तो कर देते हैं लेकिन कुछ समय बाद हार मानकर छोड़ देते हैं। इसके पीछे अधिकतर Blogger का कारण होता है earning न होना।

दोस्तों हम आपको बता दें कि Blogging भी एक business है जिसमें आपको समय, पैसे, मेहनत सब invest करना होता है। आसानी से आप Blogging में success नहीं हो सकते हैं, इसीलिए धैर्य रखें तथा मेहनत करते हुए अपने काम को अंजाम देते रहें।

Mistake #14: Audience को ना समझना

Blogger की सबसे बड़ी गलती यह गलतफहमी है कि उनके audience कौन हैं। ऐसे बहुत सारे ब्लॉग हैं जो topic को तो बहुत अच्छी तरह समझते हैं लेकिन अपने post के माध्यम से visitor को connect करने में असफल हो जाते हैं।

bloggers को अपने visitor की समस्याओं को समझते हुए content लिखना चाहिए। Otherwise post में गलत जानकारी शामिल है या सही, यही quality visitor को आपके blog में बनाए रखती है या उन्हें बाहर जाने पर मजबूर कर देती है।

ये बात ध्यान रखें कि जब आपको Audience पसंद करेगी तब ही आपको search engines rank देंगे। यदि Audience आपको नापसंद करने लगी तो आपकी बनी बनायी Rank भी search engines से गिरना शुरू हो जायेगी।

अपनी Audience की पसंद नापसंद को जाने तथा उनका ख्याल रखें। Article यही सोचकर लिखें कि हमें अपनी audience को अपने article से satisfy करना है। Audience को जो चाहिए वो उन्हें मिले इस बात का ध्यान रखें।

Mistake #15: नए Blog Post Ideas का न मिलना

ये Problem भी बहुत से bloggers face करते हैं। 50 – 100 article publish करने के बाद bloggers सोचने लगते हैं कि अब क्या लिखूं? इसीलिए हमेशा जिस Niche की जानकारी हो तथा जिसमें आप intrested हैं वही चुनें। साथ ही हमेशा Content लिखने में ही ध्यान न दें बल्कि अपने blog से related तथा competitor blogs को पढ़ें जिससे आपको नए नए ideas मिलेंगे।

नए Ideas ढूँढने के लिए Pinterest, youtube, quora, search engines, social media, question and answer forums का उपयोग करें। अपनी Audience से भी सलाह लें कि आपको किस topic पर लिखना चाहिए।

अंतिम शब्द :

दोस्तों उम्मीद करते हैं कि आपको इस आर्टिकल में दी गयी जानकारी से काफी कुछ सीखने को मिला होगा। आप भी इन सब बातों का ध्यान रखें तथा कभी भी ये सब गलतियां न करें नहीं तो आपको भी काफी तरह के नुक्सान झेलने पड़ सकते हैं।

इस आर्टिकल को अपने Blogger दोस्तों के साथ share करना न भूलें ताकि उनकी भी सहायता हो सके। इस आर्टिकल से Related query आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं।

Digital market के जरिए कैसे पैसे कमाएं ?

मौजूदा समय में digital platform एक बहुत बड़ा market बन गया है, जिसकी पहुंच सिर्फ आपके शहर या प्रदेश तक नहीं, बल्कि पूरे देश और दुनिया तक है। digital platform के जरिए सिर्फ information का transaction ही सुलभ नहीं हुआ, बल्कि यह users को कमाई के कई बेहतर market भी provide कर रहा है। ऐसा market जिसके जरिए आप घर बैठे लाखों रुपये तक की कमाई कर सकते हो। दोस्तो आज हम अपने इस article के जरिए आपको digital market से पैसे कमाने के कई important tips बताएंगे, जिसका use करके आप भी घर बैठकर पैसा कमा सकते हो।

Digitalmarket क्याहै?

Friends सबसे पहले हमें यह समझना होगा, कि आखिर digital market क्या है ? दरअसल जब आप internet से जुड़े various platform का उपयोग किसी तरह की मार्केटिंग के लिए करते हो, तो वह digital market कहलाता है। digital market आपको अपनी चीज दूसरों तक पहुंचाने के लिए एक बड़ा platform provide करता है, जिसके जरिए आप अपने physical content या logical idea को सेल कर सकते हैं। इसके जरिए आप दूसरी companies को अपनी service  भी provide कर सकते हैं। आइए अब हम आपको बताते हैं, कि आप Digital market के जरिए कैसे पैसे कमा सकते हैं।

Content writing

Content writing को हम Digital market के जरिए पैसा कमाने के सबसे effective feature में से एक मान सकते हैं।  आप देख सकते हैं, कि internet पर बहुत अधिक मात्रा में content मौजूद है, और किसी भी तरह की information के transaction में content की भूमिका सबसे अधिक होती है। अगर आपके अंदर creative content लिखने की क्षमता है, तो आप उसका उपयोग करके Digital market में अच्छा खासा पैसा कमा सकते हो। आप या तो किसी special subject पर खुद के blog लिख सकते हो, या फिर किसी और company या agency के लिए content writing का काम कर सकते हो। content writing का एक part E-book भी है, अगर आप चाहें तो book लिखकर भी इंटरनेट के जरिए पैसा कमा सकते हो।

Blog and website

अगर आपके पास creative content writing के साथ internet users तक पहुंचाने के लिए को special  concept है, तो आप अपने खुद के blog या फिर website पर भी काम शुरू कर सकते हो। अगर इसकी reach अधिक होती है और इस पर traffic बढ़ता है, तो आप Google ad sense अच्छी खास कमाई भी कर सकते हो। इसके अलावा अपने blog या website पर आप अलग अलग products का aid करके पैसा कमा सकते हो।

You tube channel  

अगर आप अपने unique content को Blog या फिर website के अलावा video की शक्ल देना चाहते हैं, तो You tube channel से अच्छा platform कुछ भी नहीं हो सकता। you tube Google के बाद सबसे अधिक use किया जाने वाला search engine है, जिसकी मदद से आप खुद के ideas और creativity को promote करके आसानी के साथ पैसा कमा सकते हो। आपके you tube channel पर users का traffic और उसका अधिक से अधिक subscription आपको Google ad sense के जरिए अच्छी खासी कमाई करवा सकता है। इसके साथ ही आप अपने channel का उपयोग private product के promotion में भी कर सकते हो।

SEO (Search Engine Optimization)

अगर आप SEO यानी Search Engine Optimization के अच्छे जानकार हो और इसकी सभी बारीकियों से परीचित हो, तो digital market का आप बेहतरीन उपयोग कर सकते हैं। जैसा आप सब जानते हैं, SEO का उद्देश्य किसी Search engine के result में किसी website की को प्रमुखता से दिखाना होता है, जिसमें key words, Key Phrases और headline अहम भूमिका निभाते हैं। अगर आप SEO expert हैं, तो आप खुद के blog या website को promote करने के साथ कई और companies के लिए service provide कर सकते हो। companies SEO expert को अच्छा खासा payment भी करती हैं।

 App developer and website designer

Digital marketing में App developer के साथ website designer का सबसे important roll होता है। हम जानते हैं, कि किसी भी तरह का Digital operation किसी website या फिर App पर ही परफॉर्म किया जाता है। लिहाजा, इन दोनों की importance काफी खास होती है। अगर आप अच्छे website designer हैं, और अपने customer को बेहतर output देते हैं, तो Digital marketing की field में आपको बेहतर काम के साथ पैसे कमाने के अच्छे मौके मिल सकते हैं। वहीं किसी खास app को develop करके भी आप अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। आपके द्वारा बनाए गए app के हर installation पर आपको निर्धारित राशि प्रदान की जाती है। 

Social Media Marketing

Social media marketing को मौजूदा समय में Digital marketing के सबसे important tool के तौर पर देखा जाता है, जैसा कि जाहिर है कि आजकल लगभग हर शख्स internet के social platform जैसे face book, twitter, Instagram आदि से जुड़ा हुआ है। ऐसे में Digital marketing के जरिए कोई भी company इन तक सीधी पहुंच बना सकती है। इसमें खास बात यह है, कि Social media के user भी related companies के लिए काम करके अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं। लेकिन इसके लिए जरूरी है, कि संबंधित Social site पर आपको follow करने वाले लोगों की संख्या अधिक होनी चाहिए। इसके बाद जब भी आपके द्वारा share किए गए किसी aid पर आपके follower क्लिक करेंगे, तो इसकी एवज में आपको पैसे मिलेंगे।

Mobile marketing

Mobile marketing को digital marketing को advance feature माना जा सकता है। इसके जरिए कई तरह की service provide की जाती है। इनमें SMS, Pop Up massage, push notification जैसी Service प्रमुख हैं। साधारण तौर पर इनका उपयोग mobile user तक किसी भी information को पहुंचाने के लिए किया जाता है। हालांकि फिलहाल app based marketing और QR codes को mobile marketing से जुड़ा अहम tool माना जाता है, जिसमें app based marketing में जहां कोई product किसी app store में अधिक दिखाई देता है, तो वहीं QR codes के जरिए किसी भी website का address सीधे आपके mobile browser में aid हो जाता है।

Email Marketing

Email marketing भी digital marketing के नए tool के तौर पर उभरकर सामने आई है। इसके तहत companies अपने user को email के जरिए अपने product के बारे में inform करती है। यहां पर customer को ऐसा access भी provide किया जाता है, कि वह related product से जुड़ी पूरी जानकारी लेकर उसे आसानी से purchase भी कर सकता है।

Working With business websites

Internet पर ऐसी सैंकड़ों की संख्या में website उपलब्ध हैं, जो user को अपने साथ partnership करने का मौका देती हैं। आपको उस website के product को sell करवाने में मदद करनी होगी, जिसके मुनाफे का एक निर्धारित part आपको मिलेगा। इसके साथ ही अगर आप अपने द्वारा बनाए गए product को online market में बेचना चाहते हैं, तो इसके लिए आपAMAZON की help ले सकते हैं, जो user के product को बेचने के लिए एक बड़ा market provide करता है। साथ ही आपके product की packing and shipping की जिम्मेदारी भी यही उठाता है।

WhatsApp Marketing

Do you know the population of WhatsApp. It is reaching to 2 Billion monthly active users soon. In 2019 with 1.6 billion monthly active users, WhatsApp named as the most popular global mobile messenger app worldwide.  

And WhatsApp has more user engagement. People always read whatsapp messages either in the group or personal. 

So there is no better market than Whatsapp to promote your brand. I warn you not to spam the people group instead provide the solutions for problem-specific. But the question is how to promote WhatsApp Marketing Campaign. 

Lets Deep Dive Step by Step:

Why WhatsApp promotion is need for any Business?