अपनी website या blog पर Traffic कैसे बढ़ाएं ?

दोस्तो, किसी भी blog या फिर website के लिए के traffic generate करना पहली priority होता है, इसके जरिए ही किसी भी platform की ranking decide की जाती हैं। लिहाजा आप इसकी importance को आसानी के साथ समझ सकते हो। traffic को बढ़ाने की कई techniques काफी प्रचलित हैं, जिनकी मदद से आप भी अपनी site या फिर blog की ranking में सुधार कर सकते हो, इसके लिए आपका SEO में बहुत हद तक Expert होना जरूरी नहीं है। आज हम अपने article में ऐसी ही कुछ खास techniques के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपके लिए काफी helpful साबित हो सकती हैं।    

Keyword research से पाएं traffic

Keyword research SEO से जुड़ा सबसे important task तो है ही, साथ ही यह किसी भी platform के लिए traffic generate करने में अहम भूमिका भी निभाता है। आप अगर अपनी site या blog पर कोई article publish करना चाहते हैं, तो उसके पहले जरूरी है, कि आप Keyword Research करें, जिससे आप यह जान पाओगे, कि मौजूदा वक्त में सबसे अधिक किस तरह कि Keyword trends में चल रहे हैं। अगर आप जरूरी Keyword के बारे में Research के बगैर अपना article publish करते हो, तो वह उम्मीद के मुताबिक traffic gain नहीं कर पाएगा, साथ Google search में भी उसे बेहतर ranking नहीं मिलेगी। Keyword Research के लिए कई website और tools available हैं, जिनकी help से आप trending keywords को खोजकर उससे जुड़ा बेहतर content तैयार कर सकते हैं। इसके साथ ही keyword से जुड़ा एक और important factor भी आपकी site पर traffic बढ़ाने में कारगर साबित हो सकता है, जिसे कहते हैं Long Tail Keywords। जिस Keyword की length तीन शब्दों से ज्यादा होती है उसे Long Tail Keywords कहते हैं।  इसका फायदा यह है, कि इसके जरिए आप ज्यादा से ज्यादा keyword को target करके Google search में अच्छी rank generate कर सकते हो।

Content की quality पर फोफस करें

अगर हम अपने content को traffic generate करने का सबसे important step करार दें, तो इसमें कुछ भी गलत नहीं होगा। आपका बेहतर content ही visitor को आपके platform की तरफ आकर्षित करता है और वह लंबा समय आपकी site पर spend करता है। इसके साथ ही आपकी content quality ही आपकी Google ranking के निर्धारण में important factor साबित होती है। आपका content जितना rich होगा, Google उसे उतनी ही priority देगा, और किसी भी keyword की search में आपका content सबसे ऊपर display होगा। हालांकि इस बीच हमें content की length पर भी विशेष ध्यान देने की जरूरत है। आपका content जितना लंबा होगा वह उतनी ही बेहतर rank हासिल करेगा। हमेशा कोशिश करें, कि जिस subject पर आप लिख रहे हैं, उससे जुड़ी important detail उसमें जरूर जोड़े, जिससे उसकी length बढ़ने के साथ content high quality का बन सके।

Social media सबसे important tool

आज के समय में लगभग हर web platform द्वारा social media का उपयोग traffic बढ़ाने के लिए किया जा रहा है। अलग अलग social sites जैसे facebook, twitter, instagram  पर आप अपने blog या website के content की link को share करके ज्यादा से ज्यादा reach प्राप्त कर सकते हो। जिससे न सिर्फ आपकी site के बारे में अधिक लोगों को पता चलेगा, बल्कि आपके platform पर visitors की संख्या में भी इजाफा होगा। इसके साथ ही आप अपनी post में sharing का option शामिल करना न भूलें, जिससे कोई भी user जिसे आपका content पंसद है, वह उसे share कर सकेगा और आपकी post की reach बढ़ सकेगी। वहीं social media पर audience बढ़ाने के लिए आप Social media advertising का भी सहारा ले सकते हो, जिसकी मदद से आपका content अधिक से अधिक social media user को नजर आएगा। 

Visitors के साथ interaction

जैसा कि हम जानते हैं, कि किसी भी site  या फिर blog पर visitor की अधिक संख्या ही traffic को generate करती है, ऐसे में visitors से ज्यादा से ज्यादा जुड़ाव हमारी priority होनी चाहिए। इसके लिए हम कई खास techniques को अपना सकते हैं। हमें अपनी post में visitor के comment का option जरूर खोलना चाहिए, और इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए, कि उनके हर comment का reply किया जाए। सिर्फ यहीं नहीं, बल्कि हमें अपने content को लेकर समय समय पर हमारे users के साथ interaction करना जरूरी है, हम उनसे सलाह लेकर अपना content तैयार कर सकते हैं, जो निश्चित तौर पर उन्हें पसंद आएगा। इसके साथ ही अलग अलग question and answer technique के जरिए भी आप अधिक से अधिक user से जुड़ सकते हो, और अपने platform पर traffic generate कर सकते हो।

Back link और internal linking का उपयोग करें

Back link और internal link का बेहतर उपयोग करके आप अपनी website या blog पर traffic बढ़ा सकते हो। इस दौरान आपको किसी एक post पर उससे related content की link share करनी होती है, जिससे user लंबे समय तक आपकी site पर engaged रहता है। इसके साथ ही आप अपने पुराने और important content की link को भी highly trends content पर share कर सकते हैं। जिससे नया user भी उन तक पहुंच सके। इस technique को traffic generate करने की कारगर तकनीक माना जाता है, हालांकि इस बीच एक बात ध्यान रखने की जरूरत है कि हम किसी भी ऐसी link का उपयोग न करें, जो spam या फिर अप्रासंगिक हो गई हैं। ऐसा करने पर Google हमारी rank को कम कर सकता है।

 Top site और blogs पर content share करें

अपने platform का traffic बढ़ाने के लिए आप दूसरे top platform का भी उपयोग कर सकते हैं, इसके लिए guest post सबसे कारगर technique है। किसी भी top site या blog पर आप जब guest post करते हो, तो उसके user को भी वह show होने लगती है, जिससे आपके content की reach बढ़ने के साथ आपकी site के view भी बढ़ने लगते हैं। इसके साथ ही किसी दूसरे blog पर comment लिखकर भी आप उसके visitor को अपनी तरफ attract कर सकते हैं।  

अपनी site पर visitor engagement को ट्रैक करें

अपनी website या blog पर visitors के engagement को ट्रैक करके ही आप अधिक traffic हासिल करने की technique के बारे में पता कर सकते हैं। दरअसल users की engagement को पता करके आप यह भी जान सकते हो, कि आपके platform पर वो क्या देखना या फिर क्या पढ़ना चाहता है। user की इस priority पर work करके आप ऐसा content create कर सकते हो, जिससे वह एक बार फिर attract हो और उस content के लिए अधिक से अधिक समय आपकी site पर spend करें, लिहाजा इस तरह की analyzing आपके लिए काफी helpful साबित हो सकती है।  

Website को Mobile Friendly बनाएं

जैसा कि आप सब जानते हैं, कि आज के समय में अधिकतर users web access करने के लिए desktop की जगह mobile का उपयोग करते हैं। यहां खास बात यह भी है, कि अब Google भी mobile friendly sites की high rank calculate करता है। लिहाजा हमारे सामने यह चुनौती है कि अपनी site को अधिक से अधिक mobile friendly बनाएं, जिससे user को हमारी site mobile पर run करने में किसी भी तरह की problem face न करना पड़े।  आपकी website mobile friendly है या नहीं इसका पता आप Google के mobile testing tool का उपयोग करके खुद लगा सकते हैं।

On page SEO क्या है ?

On page SEO क्या है ?

आज के समय में इंटरनेट सिर्फ हमारी जरूरत नहीं बना, बल्कि यह बड़े कमाई के साधन भी उपलब्ध करा रहा है। जब भी कोई user किसी search engine में कोई key word को type है, जो उससे जुड़े हजारों लाखों result सामने आ जाते हैं,लेकिन इन results में सबसे बेहतर रैंक उसी website को मिलती है, जिसने अपना on page SEO बेहतरीन तरह से manage
किया हो।

क्या है ये on page SEO और इसके जरिए आप अपनी website का traffic किस तरह से बढ़ा सकते हैं, इसकी जानकारी आज हम अपने इस आर्टिकल में देंगे।

Table Of Contents

क्या है on page SEO ?

किसी भी website के operation सबसे अहम भूमिका SEO (search engine optimization) की होती है, जो आपको आपकी website पर traffic बढ़ाने के साथ उसे search result में बेहतर रैंक दिलाने में मदद करता है। एक बेहतर SEO के जरिए ही आपकी website किसी भी search result में सबसे ऊपर नजर आएगी। अगर आप बेहतर SEO का उपयोग नहीं करते, तो जब users कुछ भी सर्च करेंगे, तो search engine आपकी साइट को SERPs में list नहीं कर पायेगा और आपकी website पर traffic हासिल कर पाना बहुत मुश्किल हो जाएगा।

Type of seo-

SEO दो तरह का होता है-

  1. on page SEO
  2. off page SEO

On page SEO – on page SEO एक ऐसी technique है, जिसके जरिए आप अपनी website की कंटेंट क्वालिटी के साथ उसके title,tagline, meta discription और key word को optimize करते हैं। on page SEO के जरिए ही कोई भी वेबसाइट या ब्लॉग सर्च इंजन में rank करते हैं।

Off page SEO – लिंक बिल्डिंग और कंटेंट Promotions off page SEO है.

अब हम आपको on page SEO से जुड़ी उन techniques के बारे में बताएंगे, जिसकी मदद से आप अपनी website के traffic को बढ़ा सकते हैं।

2020 में on page SEO के लिए एक complete guide

अपने title को ऑप्टिमाइज करें-

On page SEO का सबसे important part आपके ब्लॉग का title होता है। आपका title ही users को आपकी website की तरफ आकर्षित करता है। अगर आपका title impressive नहीं है, तो visitors आपकी website से जुड़े रिजल्ट पर क्लिक नहीं करेंगे, चाहे आपका content कितना भी बेहतर क्यों न हो।

यदि आप भी चाहते हैं कि आपका कंटेंट सर्च इंजन में बेहतर प्रदर्शन करें तो फिर attrictive title लिखना स्टार्ट करें.

Tips for title-

  • अपने title के साथ main keyword को भी जरूर add करें.
  • Long tail keyword के लिये modifiers (“best”, “guide”, “checklist”, “fast” and “review”) का उपयोग कर करें

NOTE: आप का title 50-60 कैरेक्टर से अधिक ना हो क्योंकि 60 से अधिक कैरेक्टर होने पर गूगल SERPs में title tag cut कर देता है. इसलिए अपना टाइटल 50-60 कैरेक्टर के बीच ही रखें.

Content quality-

2020 में On page SEO को बेहतर तरीके से manage करने के लिए आपको अपने content quality पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है।आपका content जितना भी interesting और special होगा, visitors आपकी website की तरफ उतने ही आकर्षित होंगे। content लिखने से पहले आपको ध्यान देना होगा कि आपका content unique, वैल्युएबल और इंटरनेट पर लोग क्या सर्च कर रहे हैं उस पर आधारित होना चाहिए।

SEO friendly URL

आपको अपने ब्लॉग-पोस्ट के URL को हमेशा छोटा रखने की जरूरत है, साथ ही उसमें अपने main keywords को add करना भी न भूलें। इससे सर्च इंजन को आपके content को समझने में मदद मिलती है। अपने URL में कभी भी special characters का उपयोग न करें। और इसे हमेशा short और readable रखने की कोशिश करें।

Keyword research भी important part

Keyword research on-page SEO के important part में से एक है। यदि आप अपने ब्लॉग पर बेहतरीन आर्टिकल लिखते हैं,लेकिन इसके लिए keyword research नहीं करते हैं, तो आपके आर्टिकल search engine में रैंक नहीं करेंगे।

Keyword research आपके कंटेंट writing में इस तरह helpful हो सकता है-

  1. लोग क्या सर्च कर रहे हैं?
  2. कितने लोग इसे सर्च कर रहे हैं
  3. लोग किस तरह के फॉर्मेट में इंफॉर्मेशन चाहते हैं
  4. related कीवर्ड को गूगल में रैंक करा पाना आसान है या नहीं.

कई ऐसे free टूल और वेबसाइट हैं जो आपके आर्टिकल से संबंधित अच्छे कीवर्ड खोजने में आपकी मदद कर सकते हैं. ex- Google ad words, keyword planner.

First paragraph में keyword पर फोकस करें

आपको अपने आर्टिकल के first paragraph में कीवर्ड का उपयोग करना चाहिए, जिससे search engine को आपके content को समझने में आसानी होगी। इसके अलावा यह कोशिश करें, कि आपके आर्टिकल का महत्वपूर्ण हिस्सा कंटेंट के शुरूआत में लिंक हो, जिससे user आपके आर्टिकल की तरफ आकर्षित होता है और आपका content SERPs में बेहतर प्रदर्शन करता है।

Content में images optimization

SEO based optimize image भी आपके कंटेंट को गूगल के फर्स्ट पेज में रैंक कराने में अहम भूमिका निभाती है।

Seo friendly image बनाने के लिए easy tips-

  1. Compress images- image की quality बरकरार रखते हुए file size कम करें.
  2. Image के साथ Alt tag जरूर लगाएं .
  3. सबसे important इमेज को सबसे पहले लगाएं
  4. टेक्स्ट के माध्यम से इमेज को describe करें

Heading tags का बेहतर उपयोग करें

हालांकि अब heading tags साइट रैंकिंग के लिए इतने महत्वपूर्ण नहीं है जितने कि वह पहले हुआ करते थे. लेकिन यह टैग अभी भी आपके users और आपके SEO के लिए महत्वपूर्ण हैं. कंटेंट में एडल्ट ऐड करने से कंटेंट पढ़ने में पढ़ने और समझने में आसानी होती है

अगर आप अपने article में heading tags का proper use करते हैं, तो आपको search engine की रैंकिंग में अप्रत्यक्ष रूप से फायदा मिल सकता है। कोशिश करें, कि अपने content में उससे जुड़ी heading जैसे H1, H2 और H3 का बेहतर उपयोग करें और इसमें main keyword को भी add करें।

Meta Tags

meta tags ऐसे tags होते है, जो आपके content के बारे में अहम जानकारी को छोटे रूप में show करते हैं। आप meta description के जरिए अपने आर्टिकल के important part को visitor के सामने प्रस्तुत कर सकते हो। यह information आपकी site के link और article के title नीचे display होती है। हालाकी meta tag रैंकिंग में उतनी मदद नहीं करता है लेकिन फिर भी ऐसे कई पहलू है जहां meta tag अप्रत्यक्ष रूप से रैंकिंग को प्रभावित करता है।

External linking

आप अपनी website के article में External Linking के जरिए traffic को बढ़ावा दे सकते हैं। इसके लिए आपको अपने article में एक special segment के जरिए अलग अलग article की link के जरिए Reference को add करना होगा। इससे visitor लंबा समय आपकी website पर बिताएगा, कोशिश करें कि संबंधित Reference मौजूदा article के related ही हों।

Content updation करते रहें

अधिकांश कंटेंट राइटर नया कंटेंट क्रिएट करने में ज्यादा ध्यान देते हैं जिससे वह अपने पुराने कंटेंट को अपडेट करना भूल जाते हैं और यह एक बड़ी गलती है. अपनी website पर लिखे पुराने article, post या blog को समय समय पर update जरूर करते रहें। ऐसा करने से उनकी ranking में सुधार आता है, आपको बतादें, कि कोई भी search engine fresh content को ही ज्यादा priority provide करता है।

Content की length

आपके कंटेंट की औसत लंबाई 2000-2500 शब्दों की होनी चाहिए. हालाँकि सर्च इंजन में रैंकिंग word counting पर आधारित नहीं है. कई सारे अन्य SEO factor हैं जो आप के कंटेंट को rank करने में मदद करते हैं. लेकिन average लंबाई का कंटेंट भी SEO का एक अहम हिस्सा है, हालांकि इस बीच यह ध्यान रखना भी जरूरी होता है, कि आपका Content पूरी तरह unique और impressive हो।

Website का Mobile Friendly होना जरूरी

आज के समय में अधिकतर users इंटरनेट का उपयोग अपने mobile पर करते हैं। लिहाजा यह जरूरी हो जाता है,कि आपकी Website का Mobile Friendly होनी चाहिए। अगर आपकी साइट Mobile Friendly नहीं है, तो Google आपकी रैंकिंग को कम कर देगा, जिसका सीधा असर आपकी Website के traffic पर पड़ेगा। इसलिए सबसे पहले यह जांच करें कि आपकी साइट मोबाइल फ्रेंडली है या नहीं। इसे चेक करने के लिए आप Google के Mobile Testing Tool का उपयोग कर सकते हैं।

WordPress me website kaise bnae – complete guide in Hindi

WordPress me website kaise bnae – complete guide in Hindi

कैसे बनाई जाती है WordPress में website? यदि आप भी इसी सवाल का जवाब ढूंढ रहे हैं तो आप एकदम सही जगह पर हैं ।

यदि आप इस Field में बिल्कुल नए हैं, आपको इस बारे में कोई जानकारी नहीं है, तो निश्चित ही आपके मन में कई तरह के सवालों का सैलाब उमड़ रहा होगा। इस article के माध्यम से हम आपके सारे सवालों का जवाब देते हुए, आपको बहुत आसान तरीके से बताएंगे की आखिर कैसे बनती है WordPress website? 2020 में, ब्लॉग शुरू करना पहले से आसान है.हमारे द्वारा बताए हुए step by step guide को फॉलो करके आप आसानी से अपनी website बना सकते हैं ।

WordPress me website kaise bnae – content overview)

  • WordPress क्या है?
  • WordPress website बनाने के लिए क्या-क्या होना जरूरी है ?
  • Domain क्या है, इसे कैसे खरीदें?
  • Hosting क्या है, इसे कैसे खरीदें? 

WordPress क्या है?

WordPress  दुनिया का सबसे Simple and most powerful CMS (content management system) platform है, जहां non-technical लोग भी full scale and professional दिखने वाली Website or blog बिना coding के आसानी से बना सकते हैं.

wordpress.org में ब्लॉग से लेकर ई-कॉमर्स किसी भी प्रकार की website बना सकते हैं. internet की दुनिया में 36 % से भी अधिक wordpress website मौजूद हैं.

WordPress website बनाने के लिए क्या-क्या होना जरूरी है

WordPress में website बनाने के लिए आपको दो चीजों की जरूरत होगी :

  1. Domain name – यह आपके Website or blog का address होता है. जैसे हमारा है- https://dmpathshala.com/
  2. Web Hosting-यह एक server है जो आपके website or blog files को store करता है और दूसरों को browse करने और हर समय पढ़ने के लिए इसे online रखता है.

Website या blog बनाते समय नए blogger जो सामान्य गलतियाँ करते हैं, उनसे बचने के लिए हम आपको आसान शब्दों में step by step complete process बताएंगे।

Then let’s dive in and get started.

कैसे बनाएं WordPress Website: step by step complete guide

Step-1 Website बनाने के लिए सबसे पहले जिसकी जरूरत होती है वह है domain. आपको अपना Domain खरीदना होगा.

डोमेन नेम का चुनाव करते समय ध्यान दें कि वह easy to remember and preferably brandable हो. हमारा सुझाव है कि अपने website or blog के लिए top label domain ही खरीदें. जैसे .com, .net, .info, .org

यूं तो बहुत सारी company domain provide करती हैं लेकिन हमारा suggestion है कि आप godaddy.comसे अपना domain buy करें, क्योंकि यह comparison to other domain provider आपके budget में होगा.

Step-1 Godaddy से domain खरीदने के लिए Godaddy.com link में click करते ही आप Godaddy के होम पेज में पहुंच जाएंगे, जहां आपको डोमेन नेम सर्च करने के लिए सर्च बॉक्स दिखाई देगा

Click on “Find your perfect domain”

सर्च बॉक्स में आपको अपना डोमेन नेम टाइप करके सर्च बटन पर क्लिक करना होगा यदि आपका Selected डोमेन नेम अवेलेबल है तो add to cart पर click करके “continue to cart” button पर click करना होगा

यदि आपका selected डोमेन नेम available नहीं है तो आप कोई दूसरा एक्सटेंशन जैसे कि .org, .net, .in etc खरीद सकते हैं

Step-3 नेक्स्ट स्टेप में आपको प्राइवेसी होस्टिंग ईमेल एड्रेस क्रिएट सेलेक्ट करने का ऑप्शन दिखेगा यदि आप चाहें तो extra पैसे देकर इन्हें खरीद सकते हैं या फिर no thanks select करके continue to cart पर क्लिक करिए.

Step-4 your item वाले section में आपको यह select करना होगा कि आप कितने year के लिए domain खरीदना चाहते हैं उसके हिसाब से आपको pay करना होगा..

यदि godaddy में आपका पहले से account है तो sign in पर क्लिक करिए. यदि आप new customer है तो आपको अपना email address,username , password डालकर create account button पर click करना होगा.

Step-5 account create करने के बाद आपको billing detail डालकर save बटन पर क्लिक करना होगा. save बटन को क्लिक करते ही आपके सामने pament page open होगा. जहां आपको payment detail feel करके order place करना होगा. payment करने के बाद आपको आपके domain की complete detail मिल जाएगी.

अपने डोमेन से रिलेटेड information के लिए आपको godaddy के home page से आपकी प्रोफाइल नेम में क्लिक करके वहां से manage my domain select करना होगा.

Hosting कैसे और कहां से लें-

यूं तो Hosting provide करने वाली भी बहुत सारी company है, लेकिन मेरा suggestion है कि आप hostgator से hosting buy करें. क्योंकि यह-

  • hostgator india में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाली भरोसेमंद और सिक्योर web hosting होने के साथ-साथ अच्छी स्पीड भी provied करता है .
  • यदि आपकी वेबसाइट पर किसी प्रकार की समस्या आती है तो Hostgator हिंदी और english दोनों भाषों में Support system provied करता है .
  • Hostgator से आप अपने बजट के अनुसार hosting खरीद सकते है- जैसे 1 महीनें के लिए, 3 महीनें के लिए, 6 महीनें के लिए, 12 महीनें के लिए, बाद में आप इसे upgrate भी कर सकते हैं.
  • Hostgator से होस्टिंग खरीदने के बाद आप एक क्लिक में WordPress इनस्टॉल कर सकते है।

step-1 Hostgator से होस्टिंग खरीदने के लिए सबसे पहले  hostgator.in  पर क्लिक करके hostgator की homepage पर जाये.

hostgator web hosting offer hindi

Step- 2
अब आपको Get Started Now! पर क्लिक करना होगा।

Step- 3
Next page में आपकों 4 तरह के plan दिखाई देंगे, आप अपने लिए किसी तरह का प्लान चाहतें है उस पर BUY Now बटन पर क्लिक करें।

Step- 4
यदि आपके पास डोमेन नेम है तो yes बटन पर क्लिक करें.

अब आप जिस domain Name के लिए Hostgator Hosting ख़रीद रहे है उसे Enter करें।एवं नीचे के सभी box के टिक को हटा दें (क्योंकि आपको site lock, secure lock की जरूरत नहीं है इसलिए फिजूलखर्ची से बचें) और Continue पर क्लिक करें।

Step- 6 अब आप कितने दिनों के लिए hosting buy करना चाहते हैं आपको अपना प्लान (1 महीने , 3 महीने , 6महीने , 9 महीने , 1 साल के लिए इत्यादि) सेलेक्ट करके continue बटन पर क्लिक करना होगा

Step- 7 आपके सामने Hostgator का login पेज ओपन होगा. यदि आपके पास यदि आपके पास Hostgator का लॉगिन आईडी है तो लॉगइन बटन पर क्लिक करें, यदि आप नए यूजर हैं तो create an account button पर क्लिक करके आप अपना account create करें.

Step- 8
लॉगिन करने के बाद contact information/user information form भरने के बाद Payment Pay करने का ऑप्शन आएगा जिसके लिए आप Netbanking/Debit Card/credit card  आदि का इस्तेमाल कर सकते है।

Step- 9
पेमेंट डिटेल फील करने के बाद Pay Now पर क्लिक करें।ट्रांजैक्शन प्रोसेस पूरा होने के बाद आपको मेल के द्वारा सभी महत्वपूर्ण डेटिल्स मिल जाती है और उसका इस्तेमाल कर आप WordPress पर अपनी वेबसाइट/ब्लॉग बना सकते है।